• Dec 04, 2001

    भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह, इन्सैट-3 सी, इसरो द्वारा डिजाइन और निर्मित दिसंबर 2, 2001 को 6.15 बजे बैंगलोर से हवाई जहाज से भेजा गया था और शनिवार 12.15 बजे (आईएसटी) पर कल (3 दिसंबर 2001) कोरू के पास कायेन हवाई अड्डे पर पहुंचा था। । उपग्रह अब कोरू में समाकलन सुविधाओं में स्थित किया ग

  • Dec 04, 2001

    The Indian National Satellite, INSAT-3C, designed and built by ISRO was airlifted from Bangalore at 6.15 am on December 02, 2001 and the satellite reached Cayenne Airport near Kourou, French Guyana at 12.15 pm (IST) yesterday (December 3, 2001).

  • Dec 01, 2001

    ISRO crossed a major milestone yesterday (November 30, 2001) when it successfully tested an up-rated version of the liquid propellant Vikas engine at ISRO's Liquid Propulsion Test Facilities at Mahendragiri in Tamilnadu.

  • Dec 01, 2001

    इसरो ने कल (30 नवंबर, 2001) एक प्रमुख मील का पत्थर पार कर लिया जब तमिलनाडु के महेंद्रगिरी में इसरो के द्रव नोदन परीक्षण सुविधा में द्रव प्रणोदक विकास इंजन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। विकास इंजन भारत के ध्रुवीय उपग्रह लॉन्च वाहन (पीएसएलवी) के दूसरे चरण में और साथ ही साथ जीओ

  • Nov 26, 2001

    The Prime Minister of Thailand, Pol Lt Col Thaksin Shinawatra, visited ISRO Satellite Centre, Bangalore this morning (November 26, 2001).

  • Nov 26, 2001

    थाईलैंड के प्रधान मंत्री, पोल लेफ्टिनेंट कर्नल थाकसिन शिनावात्रा, ने आज (नवंबर 26, 2001) सुबह, इसरो उपग्रह केंद्र, बैंगलोर का दौरा किया। उनके साथ उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल श्री सोमकड जतुस्शीपिटक, उप प्रधान मंत्री और वित्त मंत्री, उनके मंत्रिमंडल के वरिष्ठ मंत्री, व्यापार प्रतिन

  • Nov 16, 2001

    इसरो ने लियोनिड उल्कापिंड बौछार के दौरान अपने उपग्रहों की सुरक्षा के लिए एहतियाती उपायों को किया है, जो कि 18 नवंबर, 2001 को दोपहर 2.30 से 3.30 बजे और फिर 10.30 बजे से अपराह्न 11.30 बजे के बीच चरम पर होने की उम्मीद है। भारतीय रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट के लिए एहतियाती उपायों में कै

  • Nov 16, 2001

    ISRO is taking precautionary measures to safeguard its satellites during the Leonid Meteoroids shower which is expected to reach its peak between 2.30 pm and 3.30 pm and again between 10.30 pm and 11.30 pm on November 18, 2001.

  • Oct 23, 2001

    प्रौद्योगिकी प्रयोग उपग्रह, टीईएस, जो कि श्रीहरिकोटा से पीएसएलवी-सी 3 इसरो के ध्रुवीय उपग्रह प्रमोचन वाहन द्वारा कल (22 अक्टूबर, 2001) प्रमोचन किया गया था, अच्छी तरह से काम कर रहा है । टेलीमेट्री, कमांड और पावर जैसे विभिन्न उप-प्रणालियों का परीक्षण पूरा हो चुका है। सैटेलाइट पोज

  • Oct 23, 2001

    The Technology Experiment Satellite, TES, which was launched by ISRO's Polar Satellite Launch Vehicle, PSLV-C3, from Sriharikota yesterday (October 22, 2001) is functioning well. The tests on various subsystems like telemetry, command and power have been completed.

Pages