National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), अं‍तरिक्ष विभाग, इसरो, बेंगलूरु में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वेतन मैट्रिक्‍स (7वां केंद्रीय वेतन आयोग) के स्‍तर 14 में नियंत्रक के पद की भर्ती (आवेदन की अंतिम तिथि है: 15/11/2021)
चंद्रयान-2 विज्ञान आंकड़ा उपयोगीता के लिए अवसर की घोषणा। प्रस्ताव प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर 2021 है।
वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।
अप्रैल 15, 2010

GSAT-4

GSAT-4 was the nineteenth geo-stationary satellite of India built by ISRO and fourth in the GSAT series. GSAT-4 was basically an experimental satellite with the following new technologies intended to be tested:

  • Electric Propulsion System
  • Bus Management Unit
  • 1553 Bus for Data Communication
  • Miniaturised Dynamically Tuned Gyros
  • 36 AH Lithium Ion Battery
  • 70 V Bus for Ka band TWTAs 

However, GSAT-4 was not placed in orbit as GSLV-D3 could not complete the mission
 

प्रमोचन भार / Launch Mass: 
2220 Kg
आयाम / Dimension: 
2.4 X 1.6 X 1.5
मिशन कालावधि / Mission Life : 
> 7 years
प्रमोचक राकेट / Launch Vehicle: 
GSLV-D3 / GSAT-4
उपग्रह का प्रकार / Type of Satellite: 
Communication
निर्माता / Manufacturer: 
ISRO
स्‍वामी / Owner: 
ISRO
अनुप्रयोग / Application: 
Communication
कक्षा का प्रकार / Orbit Type: 
GSO