जनवरी 05, 2014

जीएसएलवी-डी5 / जीसैट -14

जीएसएलवी-डी 5 भारत के भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान (जीएसएलवी) की आठवीं उड़ान है।  यह जीएसएलवी की चौथी विकास उड़ान है। जीएसएलवी-डी 5 वाहन का प्रथम और द्वितीय चरण का विन्यास पहले के जीएसएलवी मिशन में भेजे चरणों के समान ही है। तीसरा चरण स्वदेशी क्रायोजेनिक चरण है। जीएसएलवी-डी 5 के लिए 3.4 मीटर की व्यास के साथ धातु पेलोड फेअरिंग अपनाया गया है। एस-बैंड दूरमिति और सी-बैंड ट्रांसपोंडर जीएसएलवी-डी 5 के प्रदर्शन का मानिटरण, अनुवर्तन, परास सुरक्षा/उड़ान सुरक्षा और प्रारंभिक कक्षा निर्धारण (पॉड) के लिए सक्षम बनाता है ।

जीएसएलवी-डी 5 जनवरी 05, 2014 को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र शार, श्रीहरिकोटा के दूसरे लॉन्च पैड (एसएलपी) से प्रमोचन किया गया था।

 

जीएसएलवी-डी 5 चरणों का अवलोकन
पैरामीटर प्रथम चरण दूसरा चरण तासरा चरण
स्ट्रैपऑन
4 L40 H
कोर चरण
S139
लंबाई (मी)
19.7
20.1
11.6
8.7
व्यास (मी)
2.1
2.8
2.8
2.8
नोदक
UH25 & N2O4
HTPB
UH25 & N2O4
LH2 & LOX
नोदक भार(ट)
4 X 42.6
138.2
39.5
12.8
अधि.प्रणोद (केएन)
680
4800
720
75
अवधी (सें)
148
100
150
720