National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), अं‍तरिक्ष विभाग, इसरो, बेंगलूरु में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वेतन मैट्रिक्‍स (7वां केंद्रीय वेतन आयोग) के स्‍तर 14 में नियंत्रक के पद की भर्ती (आवेदन की अंतिम तिथि है: 15/11/2021)
चंद्रयान-2 विज्ञान आंकड़ा उपयोगीता के लिए अवसर की घोषणा। प्रस्ताव प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर 2021 है।
वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।
जनवरी 05, 2014

जीएसएलवी-डी5 / जीसैट -14

जीएसएलवी-डी 5 भारत के भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान (जीएसएलवी) की आठवीं उड़ान है।  यह जीएसएलवी की चौथी विकास उड़ान है। जीएसएलवी-डी 5 वाहन का प्रथम और द्वितीय चरण का विन्यास पहले के जीएसएलवी मिशन में भेजे चरणों के समान ही है। तीसरा चरण स्वदेशी क्रायोजेनिक चरण है। जीएसएलवी-डी 5 के लिए 3.4 मीटर की व्यास के साथ धातु पेलोड फेअरिंग अपनाया गया है। एस-बैंड दूरमिति और सी-बैंड ट्रांसपोंडर जीएसएलवी-डी 5 के प्रदर्शन का मानिटरण, अनुवर्तन, परास सुरक्षा/उड़ान सुरक्षा और प्रारंभिक कक्षा निर्धारण (पॉड) के लिए सक्षम बनाता है ।

जीएसएलवी-डी 5 जनवरी 05, 2014 को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र शार, श्रीहरिकोटा के दूसरे लॉन्च पैड (एसएलपी) से प्रमोचन किया गया था।

 

जीएसएलवी-डी 5 चरणों का अवलोकन
पैरामीटर प्रथम चरण दूसरा चरण तासरा चरण
स्ट्रैपऑन
4 L40 H
कोर चरण
S139
लंबाई (मी)
19.7
20.1
11.6
8.7
व्यास (मी)
2.1
2.8
2.8
2.8
नोदक
UH25 & N2O4
HTPB
UH25 & N2O4
LH2 & LOX
नोदक भार(ट)
4 X 42.6
138.2
39.5
12.8
अधि.प्रणोद (केएन)
680
4800
720
75
अवधी (सें)
148
100
150
720