National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), अं‍तरिक्ष विभाग, इसरो, बेंगलूरु में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वेतन मैट्रिक्‍स (7वां केंद्रीय वेतन आयोग) के स्‍तर 14 में नियंत्रक के पद की भर्ती (आवेदन की अंतिम तिथि है: 15/11/2021)
चंद्रयान-2 विज्ञान आंकड़ा उपयोगीता के लिए अवसर की घोषणा। प्रस्ताव प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर 2021 है।
वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।
अप्रैल 15, 2010

जीसैट-4

जीसैट-4 इसरो द्वारा निर्मित भू-स्थिर उपग्रहों में उन्नीसवाँ और जीसैट श्रृंखला में चौथा उपग्रह था। जीसैट-4 मूलतः निम्नलिखित नई प्रौद्योगिकियों के परीक्षण के उद्देश्य से एक प्रायोगिक उपग्रह था।

  • इलेक्ट्रिक नोदन प्रणाली
  • बस प्रबंधन इकाई
  • डेटा संचार के लिए 1553 बस
  • लघुकृत गतिक रूप से ट्यून किए गए जायरो
  • 36 एएच लिथियम आयन बैटरी
  • के.ए. बैंड टी.डब्ल्यू.टी.ए के लिए 70 वी बस

तथापि, जीसैट-4 को कक्षा में स्थापित नहीं किया जा सका, क्योंकि जीएसएलवी-डी3 मिशन पूरा नहीं कर सका।

प्रमोचन भार / Launch Mass: 
2220 किग्रा
आयाम / Dimension: 
2.4 X 1.6 X 1.5
मिशन कालावधि / Mission Life : 
> 7 years
प्रमोचक राकेट / Launch Vehicle: 
GSLV-D3 / GSAT-4
उपग्रह का प्रकार / Type of Satellite: 
संचार
निर्माता / Manufacturer: 
इसरो
स्‍वामी / Owner: 
इसरो
अनुप्रयोग / Application: 
संचार
कक्षा का प्रकार / Orbit Type: 
GSO