National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।
जून 22, 2016

कार्टोसैट-2 श्रृंखला का उपग्रह

कार्टोसैट-2 श्रृंखला का उपग्रह पीएसएलवी-सी34 द्वारा ले जाए जाने वाला मुख्‍य उपग्रह है। यह पूर्व के कार्टोसैट-2ए, एवं 2बी के समान है। पीएसएलवी-सी34 द्वारा 505 कि.मी. की ध्रुवीय सूर्य तुल्‍काली कक्षा में इसके अंत:क्षेपण के बाद, इस उपग्रह को प्रचालनसात्‍मक संरूपण में लाया जाएगा, जिसके पश्‍चात., वह अपने पैनक्रोमेटिक एवं बहु-स्‍पेक्‍ट्रमी कैमराओं का उपयोग करते हुए नियमित सूदूर संवेदी सेवाएँ प्रदान करने लगेगा।

उपग्रह द्वारा भेजे गए प्रतिबिंब कार्टोग्राफिक उपयोग, शहरी व ग्रामीण उपयोग, तटीय भूमि उपयोग एवं विनियमन, उपयोगिता प्रबंधन जैसे, सड़क नेटवर्क मानीटरन, जल वितरण, भूमि उपयोग मानचित्रों का सृजन, परिशुद्धता अध्‍ययन, भौगोलिक एवं मानव-निर्मित को दर्शाने हेतु परिवर्तन संसूचन और अन्‍य भूमि सूचना प्रणाली (एल.आई.एस.) तथा भौगोलिक सूचना प्रणाली (जी.आई.एस.) अनुप्रयोगों के लिए उपयोगी होंगे।

पीएसएलवी-सी34/कार्टोसैट-2 श्रृंखला उपग्रह मिशन का प्रमोचन 22 जून, 2016 को होना निर्धारित हुआ है।

प्रमोचन भार / Launch Mass: 
737.5 कि.ग्रा
प्रमोचक राकेट / Launch Vehicle: 
पीएसएलवी-सी34
उपग्रह का प्रकार / Type of Satellite: 
भू प्रेक्षण
निर्माता / Manufacturer: 
इसरो
स्‍वामी / Owner: 
इसरो
अनुप्रयोग / Application: 
भू प्रेक्षण
कक्षा का प्रकार / Orbit Type: 
एस.एस.पी.ओ.