फ़रवरी 15, 2017

कार्टोसैट -2 श्रृंखला उपग्रह

पीएसएलवी-C37 द्वारा भेजे जाने वाला कार्टोसैट 2 श्रृंखला उपग्रह प्राथमिक उपग्रह है। यह उपग्रह कार्टोसैट 2 श्रृंखला के पहले चार उपग्रहों के समान है। पीएसएलवी-C37 से 505 किलोमीटर ध्रुवीय सूर्य समकालिक कक्षा में इसके अंतक्षेपण के बाद, उपग्रह परिचालन विन्यास लाया जाएगा तो यह नियमित रूप से सुदूर संवेदन सेवाएं इसकी पैनक्रोमिक और मल्टी-स्पेक्ट्रल कैमरे का उपयोग कर उपलब्ध कराना शुरू करेगा ।

कार्टोसैट 2 श्रृंखला उपग्रह से लिए प्रतिबिंब मानचित्रण अनुप्रयोगों, शहरी और ग्रामीण अनुप्रयोगों, तटीय भूमि के उपयोग और विनियमन, उपयोगिता प्रबंधन जैसे सड़क नेटवर्क का मानीटरण, ​​जल वितरण, भूमि उपयोग के नक्शे का निर्माण,  भौगोलिक और मानव निर्मित विशिष्टता में परिवर्तन का पता लगाने और विभिन्न अन्य भूमि सूचना प्रणाली (एलआईएस) और भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस) के अनुप्रयोगों के लिए उपयोग में लिया जाएगा ।

कार्टोसैट -2 श्रेणी उपग्रह श्रीहरिकोटा से बुधवार, 15 फरवरी, 2017 को सुबह 9.28 बजे आईएसटी पर प्रमोचन किया जाना निर्धारित है।

 

प्रमोचन भार / Launch Mass: 
714 कि.ग्रा.
प्रमोचक राकेट / Launch Vehicle: 
पीएसएलवी-C37 / कार्टोसेट -2 श्रृंखला उपग्रह
उपग्रह का प्रकार / Type of Satellite: 
भू प्रेक्षण
निर्माता / Manufacturer: 
इसरो
स्‍वामी / Owner: 
इसरो
अनुप्रयोग / Application: 
भू प्रेक्षण
कक्षा का प्रकार / Orbit Type: 
एस.एस.पी.ओ.