National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), अं‍तरिक्ष विभाग, इसरो, बेंगलूरु में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वेतन मैट्रिक्‍स (7वां केंद्रीय वेतन आयोग) के स्‍तर 14 में नियंत्रक के पद की भर्ती (आवेदन की अंतिम तिथि है: 15/11/2021)
चंद्रयान-2 विज्ञान आंकड़ा उपयोगीता के लिए अवसर की घोषणा। प्रस्ताव प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर 2021 है।
वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।

उन्‍नति

                                                                              (इसरो द्वारा यूनिस्‍पेस नैनो उपग्रह सम्‍मुचयन एवं प्रशिक्षण)

अंतरिक्ष विभाग (अं.वि.), भारत सरकार के भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अन्‍य देशों के प्रतिभागियों, जो अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम को विकसित करने में इच्‍छुक है, के लिए नैनो उपग्रह विकास पर क्षमता निर्माण कार्यक्रम को आयोजित करने का प्रस्‍ताव दिया है।

इस कार्यक्रम की घोषणा डॉ कै. शिवन, अध्‍यक्ष, अंतरिक्ष आयोग/सचिव, अं.वि. द्वारा यूनिस्‍पेस +50 संगोष्‍ठी के दौरान 18 जून, 2018 को वियना में की गई। उन्‍नति (इसरो द्वारा यूनिस्‍पेस नैनो उपग्रह सम्‍मुचयन एवं प्रशिक्षण) नामक इस कार्यक्रम का संचालन बेंगलूर स्थित इसरो के यू.आर. राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी.) द्वारा किया जाएगा।

यूनिस्‍पेस +50 की एक पहल के रूप में, यह कार्यक्रम प्रतिभागी देशों को नैनो उपग्रहों के सम्‍मुचयन, समेकन एवं परीक्षण में अपनी क्षमता को मजबूत करने का एक उत्‍तम अवसर प्रदान करता है।

उन्‍नति प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रथम बैच का उद्घाटन माननीय राज्‍य मंत्री (अंतरिक्ष), डॉ. जितेंद्र सिंह, द्वारा    17 जनवरी, 2019 को किया गया तथा यह कार्यक्रम सफलतापूर्वक 15 मार्च, 2019 को संपन्‍न हुआ।

इस कार्यक्रम के प्रथम बैच में 17 देशों (अल्‍जीरिया, अर्जेंटिना, आज़रबाइजान, भूटान, ब्राज़ील, चिली, मिस्र, इंडोनेशिया, कज़ाखस्‍तान, मलेशिया, मैक्सिको, मंगोलिया, मोरक्‍को, म्‍यान्‍मार, ओमान, पनामा तथा पुर्तगाल) से आए 29 प्रतिभागी लाभान्वित हुए।

सभी प्रतिभागियों ने इस ज्ञानवर्धक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के लिए तथा बेंगलूर में उनके निवास के दौरान दिखाए गए उदार आतिथ्‍य के लिए इसरो तथा भारत के प्रति अपना आभार प्रकट किया।

उन्‍नति का दूसरा बैच 15 अक्‍तूबर, 2019 से प्रारंभ होगा। इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण कार्यक्रम ब्‍यौरे तथा पाठ्यक्रम ब्रोशर सहित निम्‍नलिखित लिंक में 01 जून, 2019 से 29 जुलाई 2019 तक उपलब्‍ध रहेगा।

उन्‍नति (बैच-2)

इच्‍छुक अभ्‍यर्थियों से अनुरोध है कि ऑनलाइन पंजीकरण करें तथा समय रहते हुए आवेदन जमा करें।