National Emblem
ISRO Logo

अंतरिक्ष विभाग
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

लोक सूचना : सावधान : नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवार

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), अं‍तरिक्ष विभाग, इसरो, बेंगलूरु में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वेतन मैट्रिक्‍स (7वां केंद्रीय वेतन आयोग) के स्‍तर 14 में नियंत्रक के पद की भर्ती (आवेदन की अंतिम तिथि है: 15/11/2021)
चंद्रयान-2 विज्ञान आंकड़ा उपयोगीता के लिए अवसर की घोषणा। प्रस्ताव प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर 2021 है।
वर्तमान ई-प्रापण साइट का नई वेबसाइट में रूपांतरण करना प्रस्तावित है। सभी पंजीकृत/नये विक्रेताओं से नई वेबसाइट https://eproc.isro.in का अवलोकन करने तथा इसरो केंद्रों के साथ भाग लेने के लिए अपने प्रत्यय-पत्र का वैधीकरण करने का अनुरोध किया जाता है।

अवसर की घोषणा (एओ) पहले एओ चक्र अवलोकनों के लिए याचना प्रस्ताव

एस्ट्रोसैट एओ प्रक्रियाएं

एस्ट्रोसैट पहला समर्पित भारतीय खगोल विज्ञान मिशन है जिसका उद्देश्य एक्स-रे, यूवी और सीमित ऑप्टिकल स्पेक्ट्रल बैंड में साथ-साथ खगोलीय वेधशाला प्रदान करना है जो भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा प्रचालित है।

28 सितंबर, 2015 को पीएसएलवी-सी30 (एक्सएल) द्वारा सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी),श्रीहरिकोटा से एस्ट्रोसेट का प्रमोचन 650 किलोमीटर के निकट भूमध्य रेखा की कक्षा में 6 डिग्री कक्षीय आनति के साथ किया गया था।

उपयोग करने के लिए मानदंड:

  • यह घोषणा भारत में रहने वाले भारतीय वैज्ञानिकों/शोधकर्ताओं और भारत के संस्थानों/विश्वविद्यालयों/ कॉलेजों में काम कर रहे हैं, उनके लिए खुला है जो
  • खगोल विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान कर रहे हैं और
  • आवश्यक वैज्ञानिक और तकनीकी औचित्य के साथ विशिष्ट लक्ष्य अवलोकनों के लिए प्रधान जांचकर्ता (पीआईएस) के रूप में प्रस्ताव पेश करने के लिए सुसज्जित हैं और
  • अगर लक्ष्य अनुमोदन के आधार पर अवलोकित किया जाता है, तो डेटा का विश्लेषण कर सकते हैं।