अनुसंधान प्रस्ताव आवेदन

अनुसंधान प्रस्‍ताव आवेदन

किसी भी शैक्षणिक संस्‍थान/स्‍वायत्‍त अनुसंधान एवं विकास संस्‍थान से संबद्ध वैज्ञानिक/इंजीनियर व्‍यक्तिगत या सामूहिक तथा/अथवा मान्‍यता प्राप्‍त शिक्षण संस्‍थानों व विश्‍वविद्यालयों के अध्‍यापक प्रस्ताव आवेदित कर सकते हैं। प्रधान अनुसंधाता (पीआई) संबंधित संस्‍थान का पूर्णकालिक कर्मचारी होना चाहिए। शैक्षणिक संस्‍थान के प्रधान द्वारा अनुसंधान प्रस्‍ताव को अनुसंधान अनुदान के लिए आवेदन पत्र के साथ प्रस्तुत करना चाहिए। मान्‍यता प्राप्‍त संस्‍थानों से असंबद्ध व्‍यक्तियों के प्रस्तावों पर विचार नहीं किया जाएगा।

उचित यही होगा कि अंतरिक्ष विज्ञान, अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी तथा अंतरिक्ष अनुप्रयोग से संबंधित प्रस्‍ताव ही प्रस्तुत किए जांए। प्रस्‍ताव प्रस्तुत करने की कोई अंतिम तिथि नहीं है। हर प्रस्‍ताव में ऐसे प्रधान अनुसंधाता का नाम होना चाहिए, जो प्रस्‍तावित विषय का विशेषज्ञ तथा आवेदन अग्रेषित करने वाले संस्‍थान का पूर्णकालिक अध्‍यापक अथवा कर्मचारी हो। उक्त परियोजना पर उसी अथवा भिन्‍न संस्‍थानों के सह-अनुसंधाता काम कर सकते हैं। प्रत्‍येक प्रस्‍ताव में निम्‍न सूचनाओं का उल्‍लेख होना चाहिए:-

  • अनुसंधाताओं के जीवनवृत्‍त जिसमें जन्‍म तिथि के साथ-साथ प्रकाशनों/पुरस्‍कारों तथा सम्‍मानों का उल्‍लेख हो।

  • संपर्क सूत्र- अनुसंधाताओं तथा प्रस्‍ताव अग्रेषित करने वाले संस्‍थान के प्रमुख का पता, ई-मेल आईडी, टैलिफोन/फैक्‍स नंबर।

  • अनुसंधान प्रस्‍ताव तथा उसके उद्देश्‍य व वैज्ञानिक/अनुप्रयुक्‍त उपयोगिता का संक्षिप्‍त वर्णन।

  • प्रस्‍तावित परियोजना में प्रयुक्‍त अनुसंधान पद्धति व तकनीक का वर्णन।

  • न्‍यूनतम संभव समय के अंदर कार्य संपादित करने के लिए इसरो द्वारा मांगी जा रही आर्थिक सहायता की राशि।

  • आवेदित प्रस्‍ताव से संबंधित उन अनुसंधान परियोजनाओं की सूची जिन्‍हें अन्‍य एजे‍न्सियों द्वारा संचालित या निधि पोषित किया जा रहा हो।

  • उन वैज्ञानिकों/इंजीनियरों के नाम व पते, जिनके साथ प्रधान अनुसंधाता ने संपर्क किया है।

इस विवरणिका के साथ संलग्‍न प्रपत्रानुसार मानक ए-4 आकार (297मि.मी.X210 मि.मी) के कागज पर प्रस्‍ताव की सात प्रतिलिपियां तैयार करनी चाहिए। कृपया ध्‍यान दें कि सभी प्रपत्रों अर्थात, ''प्रपत्र-ए'' ''प्रपत्र-बी'' ''प्रपत्र-सी'' को सही तरीके से भरना चाहिए।

अपने-अपने क्षेत्रों से संबंधित प्रस्‍ताव की पॉंच प्रतिलिपियॉं निम्‍न में से किसी एक केन्‍द्र को भेजनी चाहिए :

निदेशक
भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला 
नवरंगपुरा, अहमदाबाद 380 009.
ई-मेल : [email protected]
अंतरिक्ष विज्ञान
वायुमंडलीय विज्ञान निदेशक
राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला
गादंकी, पाकला मंडल. पिन-517 112
आंध्र प्रदेश
ई-मेल: [email protected]

रॉकेट

प्रमोचन वाहन
अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी

एवियानिकी

निदेशक
विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केन्द्र 

इसरो पो.ऑ.
तिरवुनंतपुरम - 695 022
ई-मेल: [email protected]

सुदूर संवेदन

निदेशक
राष्ट्रीय सुदूर संवेदन केन्द्र
अंतरिक्ष विभाग, Iइसरो 
बालानगर,
हैदराबाद - 500 625(तेलंगाना), भारत
ई-मेल: [email protected]

अंतरिक्ष अनुप्रयोग

अंतरिक्ष संचार

सपदूर संवेदन

मौसमविज्ञान 
 

निदेशक
अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र
जोधपुर टेकड़ा
अहमदाबाद - 380 015.
ई-मेल: [email protected]

उपग्रह प्रौद्योगिकी

निदेशक
इसरो उपग्रह केन्द्र

पो.ऑ, नं. 1795, एच ए एल एयरपोर्ट रोड

विमानपुरा पोस्ट

बैंगलूर 560 017
ई-मेल: [email protected]

उपग्रहों तथा प्रमोचन वाहनों के लिए अनुवर्तन, दूरमिति, दूरनियंत्रण व अन्य भू-उपादान तंत्रों से संबंधित अध्ययन

निदेशक
सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र, शार

श्रीहरिकोटा पो.ऑ.  524 124
नेल्लूर जिला, आंध्र प्रदेश
ई-मेल: [email protected]

नोदन

निदेशक
द्रव नोदन प्रणाली केन्द्र
वलियमला पो.ऑ.

तिरुवनंतपुरम - 695 547
ई-मेल: [email protected]

सभी प्रस्‍तावों की दो प्रतियां निम्‍न को भी प्रेषित करनी चाहिए:

नवीनता, अंतरिक्ष कार्यक्रमों में उपयोगिता तथा अन्‍य वैज्ञानिक/‍तकनीकी योग्‍यताओं के आधार पर इन प्रस्‍तावों का उस क्षेत्र के आंतरिक तथा/अथवा बाह्य विशेषज्ञों द्वारा मूल्‍यांकन किया जाएगा। समीक्षा के आधार पर प्रस्‍ताव में परिवर्तन तथा प्रधान अनुसंधाता को अनुशंसित परिवर्तनों के साथ नया प्रस्‍ताव प्रस्‍तुत करने को कहा जा सकता है।प्रस्‍ताव समीक्षा के परिणाम की सूचना प्रस्‍तावक को भी उपलब्ध कराई जाती है।