अंतिरक्ष विभाग तथा इसरो मुख्‍यालय

 

अंतरिक्ष विभाग तथा इसरो मुख्‍यालय

अंतरिक्ष भवन,

न्‍यू बीईएल रोड़,

बेंगलूरु-560 231



Visit Us

अंतरिक्ष विभाग (अं.वि.) का मूल उद्देश्‍य देश के बहुमुखी विकास के लिए अंतिरक्ष विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी का विकास और अनुप्रयोगों का प्रचार-प्रसार करना है। इस दिशा में अंतरिक्ष विभाग द्वारा निम्‍न कार्यक्रमों को विकसित किया है:-

1.        स्‍वदेशी प्रमोचन वाहन क्षमता प्राप्‍त करने के लिए प्रक्षेपण वाहन कार्यक्रम

2.        दूर संचार, प्रसारण, मौसमविज्ञान, शिक्षा के विकास आदि के वास्‍ते इन्‍सैट कार्यक्रम

3.        विभिन्‍न विकास प्रयोजनों में उपग्रह चित्रों के प्रयोग हेतु सुदूर संवेदन कार्यक्रम

4.        राष्‍ट्रीय विकास के लक्ष्‍य को पाने के लिए अंतरिक्ष विज्ञान वा प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अनुसंधान व विकास कार्य

संगठन

सन् 1962 में भारतीय राष्‍ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान समिति के गठन के साथ ही भारत में अंतरिक्ष क्रियाकलापों का श्रीगणेश हो गया था। उसी वर्ष तिरुवनंतपुरम के निकट थुम्‍बा भूमध्‍यरेखीय रॉकेट प्रक्षेपण स्‍टेशन (टर्लस) की स्‍थापना का काम भी प्रारंभ हो गया। अगस्‍त 1969 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की स्‍थापना हुई। भारत सरकार द्वारा अंतरिक्ष आयोग का गठन कर जून 1972 में अंतरिक्ष विभाग की स्‍थापना की गई तथा सितंबर 1972 में इसरो को अंतरिक्ष विभाग के अंतर्गत लाया गया।

अंतरिक्ष आयोग देश के सामाजार्थिक लाभार्थ अंतरिक्ष विज्ञान व प्रौद्योगिकी के विकास और प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम की नीति निर्धारित कर उनके क्रियान्वयन पर नज़र रखता है।  अंतरिक्ष विभाग इन कार्यक्रमों को मुख्‍यत: से भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो), भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला (पीआरएल), राष्‍ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला (एनएआरएल), उत्‍तर-पूर्वी अंतरिक्ष उपयोग केन्‍द्र तथा सेमीकंडक्‍टर प्रयोगशाला के माध्‍यम से क्रियान्‍वित करता है।  सन् 1992 में भारत सरकार के स्‍वामित्‍व की एक कंपनी के रूप में स्‍थापित एंट्रिक्‍स कॉर्पोरेशन अंतरिक्ष उत्‍पादों व सेवाओं का विपणन करता है।

इन्‍सैट समन्‍वयन समिति (आईसीसी), राष्‍ट्रीय प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन प्रणाली नियोजन समिति (पीसी-एनएनआरएमएस) तथा अंतरिक्ष विज्ञान परामर्श समिति (एडीसीओएस) जैसी राष्ट्रीय समितियों द्वारा अंतरिक्ष तंत्रों की स्‍थापना व उनके उपयोग में समन्‍वय किया जाता है।

अंतरिक्ष विभाग का सचिवालय और इसरो का मुख्‍यालय अंतरिक्ष भवन, बेंगलूरु में स्थापित है। इसरो  मुख्‍यालय स्‍थित में कार्यक्रम कार्यालयों द्वारा उपग्रह संचार, भू-पर्यवेक्षण, प्रक्षेपण वाहन, अंतरिक्षविज्ञान, आपदा प्रबंध सहायता, प्रायोजित अनुसंधान योजनाओं, संविदा प्रबंधन, अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग, सुरक्षा, विश्‍वसनीयता, प्रकाशन व जनसंपर्क, बजट व आर्थिक विश्‍लेषण, सिविल अभियांत्रिकी तथा मानव संसाधन विकास संबंधी कार्यो का समन्‍वयन किया जाता है।