शुक्रवार, 28 नवम्बर 2014
 
 
 
   
     
 
विशाल रॉकेट जो उपग्रह, रोबॉटिक अंतरिक्ष यान और मानव सहित अंतरिक्ष यान को अंतरिक्ष में ले जाते हैं, प्रमोचन यान या अभिवर्धकों के रूप में जाने जाते हैं।

प्रक्षेपण यान में तीन या चार चरण होते हैं। ये सभी चरण एक दूसरे के ऊपर सज्जित होते हैं, कभी-कभी "स्ट्रैप-ऑन मोटर" कहलाने वाला रॉकेटों का एक समूह, प्रमोचन यान के पहले चरण को घेरते हैं।

पृथ्वी की सतह से उत्थापन के बाद प्रमोचन यान एक उपग्रह/अंतरिक्ष यान को उसकी अपेक्षित कक्षा में स्थापित करने के लिए दस से तीस मिनट के बीच में का समय लेता है।


 
   
कॉपीराइट 2008 इसरो, सर्वाधिकार सुरक्षित.
 
इंटरनेट एक्सप्लोरर 7.0 के साथ 1024x768 रेज़ल्यूशन पर उत्कृष्ट रूप से देखा जा सकता है